नवम्बर 29, 2020

NewsJunglee

हमेशा सच के लिए तत्पर.

माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) खरीदेगी टिकटोक (TikTok) वो भी ५ बिलियन डॉलर में (अमेरिकी विस्तार के लिए)

1 min read
microsoft, tiktok
Loading...

इंडिया (India) ने जून के महीने में टिकटोक बेन (TikTok ban) किया उसके बाद, हाल  ही में अमेरिकी प्रेजिडेंट (American president) ” डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump)” ने  बात छेड़ी हे की वो  टिकटोक (Tiktok) app को बैन करने बात सोच रहे हे।

जिस तरह से इंडिया (India) ने टिकटोक (Tiktok) को जून के महीने में बन किया था, वैसे ही अमेरिका भी डाटा सिक्योरिटी एंड प्राइवेसी के (data security and privacy issue) को लेकर टिकटोक को बेन (ban) करने की बात चला रहा हे। लेकिन टिकटोक (Tiktok ) ने अपने उस के व्यापर (business) को बचने के लिए, अमेरिकी  कस्टमर शेयर को बचने के लिए वो बात चित करने लगे हे माइक्रोसॉफ्ट क्रॉप (Microsoft corp.) को।  ताकि वो  एक्वायर हो जाये माइक्रोसॉफ्ट से और अपने अमेरिकी प्रोसेस को माइक्रोसॉफ्ट को थमा दे। 

तारीख : ३१ जून २०२०, अमेरिकी प्रेसिडेंट ने फिर से राष्ट्रीय सुरक्षा पर चिंता जताई , उन्होंने चीनी कंपनी आधीन Apps  को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बताया। और ये भी कहा की वो चीनी वीडियो ( chinese Video Apps ban) को बेन  कर सकते हे।  

ट्रम्प  स्टेटमेंट ( Trump statement) :

” हम टिकटोक को देख रहे हे , हम उसे बेन भी कर सकते हे।  हम बहुत सी चीजे कर सकते हे।अभी बहुत से विकल्प हे।  लेकिन अभी बहुत कुछ होना बाकि हे, जिसे हम देख रहे हे।  लेकिन अभी हम दूसरे और भी सोलूशन्स देख रहे हे टिकटोक(tiktok) के लिए। ” ये ट्रमप ने रिपोट्र्स में कहा। 

ट्रम्प के चिंता करने का कारण ?

चीन में , नेशनल इंटेलिजेंस लौ ऑफ़ पीपल ऑफ़ रिपब्लिक ऑफ़ चीन २०१७ (The National Intelligence Law of the People’s Republic of China, 2017) गोवेर्न्स इसके तहत वह की सभी टेक (Tech) कंपनी को लागु करता हे जो  भले ही वो चीन  में हो या फिर वो किसी चीनी मलिकी के अंतरगत हो। उन सभी को चीनी गोवेर्मेंट कभी भी सभी डाटा की मांग कर सकती हे।  ये लॉ(law) बड़ी चिंता हे अमेरिकी गोवेर्मेंट के लिए . 

टिकटोक अमेरिका में बहुत ही प्रसीद अप्प (popular app) :

 जब इंडिया में टिकटोक का बुसिनेस्स बंद हुआ था तो उनहे लगभग ६ बिलियन (6 billion) डॉलर का नुकसान हुआ था सिर्फ पहले १० से ११ दिनों मे।

Loading...

टिकटोक, अमेरिका में २०१८ में आयी थी, टिकटोक(Tiktok) मालिकाना हक़ Bytedance() के पास हे। Bytedance ये चीनी कंपनी हे।  अब वो ८० मिलियन उपभक्ता(usrs) के साथ हे, तभी से लॉ (law) एंड प्राइवेसी(privacy) के लिए लोग इससे खतरा बता रहे हे।  

वाइट हाउस के एक इकनोमिक( economey ) सलाहकार “लररय कुदलो(Larry Kudlow) ” ने कहा हे की:

अगर टिकटोक(Tiktok) अपने आप को चीन से बहार कर ले या अमेरिकी मालिकाना को सोप दे तो हम टिकटोक(Tiktok) को अमेरिका में चलने की अनुमति दे सकते हे। 

टिकटोक की अमेरिकी मैदान की रणनीति :

फिर टिकटोक(Tiktok) ने बातचीत सुरु की माइक्रोसॉफ्ट के साथ की, वो अमेरिकी विस्तार का टिकटोक का कारभार ले।  इस  समक्षौते (agreement ) के तहत अमेरिकी यूजर का सारा दायित्व माइक्रोसॉफ्ट संभाले।  

Loading...

अपने प्रस्ताव में टिकटोक ने आवेदन किया था की उसे अमेरिकी भाग में कुछ हिसेसरी रखने दिया जाय , पर अमेरिकी वाइट हाउस से इस मामले में साफ इंकार कर दिया ,फिर  Bytedance ने टिकटोक का सारा भार अमेरिकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट को सौपना शिवकार  कर लिया हे। 

अंत में टिकटोके ने अपना सम्पूर्ण अमेरिकी कार्यभार ये माइक्रोसॉफ्ट को शॉप दिया हे और वो पूरी तरह से अमेरिकी भाग छोड़ रहे हे , अब इसके आगे माइक्रोसॉफ्ट संभालेगा।  

अब माइक्रोसॉफ्ट के पास सम्पूर्ण अधिकार हे , यूजर डाटा के एंड उनकी सुरक्षा का। साथ ही माइक्रोसॉफ्ट को ये अधिकार दिया गया हे की माइक्रोसॉफ्ट ये अधिकार किसी और अमेरिकी कंपनी को बेच भी सकता हे।  

Loading...

आज , अभी माइक्रोसॉफ्ट ने इस बातचीत को कुछ देर के लिए स्थगित कर दिया हे। साथ ट्रम्प ने ये भी कहा की अगर टिकटोक स्पिटेम्बेर तक कोई अमरीकी खरीदार नहीं ढूंढ़ता हे तो उसे बंद कर दिया जायेगा।

तुलना “भारतीय टिकटोक बेन ” और “अमेरिकी बेन की धमकी “:

भारतीय टिकटोक बन से टिकटोक एंड उसके भारतीय यूजर दोनों को काफी नुकसान हुआ।  इसके आलावा काफी लोग जो टिकटोक पे एक्टिव थे उन लोगो ने काफी नुकसान छेला।  

पर अमेरिकी टिकटोक बेन की धमकी ने टिकटोक को अमेरिकी कंपनी को बेचने को मजबूर कर दिया। यहाँ दोनों को ही काफी काम नुकसान हुआ।  

कुछ विशेषगयो का कहना हे की टिकटोक के प्रति अमेरिकी रणनीति काफी फायदे कारक हे भारतीय रणनीति की तुलना मे। 

Loading...
Loading...

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *