वित्त मंत्री “निर्मला सीतारमण” रोजगार बढ़ाने के लिए कंपनियों को भत्ते (रकम) प्रदान किए

वित्त मंत्री “निर्मला सीतारमण” रोजगार बढ़ाने के लिए कंपनियों को भत्ते (रकम) प्रदान किए

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को उन प्रतिष्ठानों को सब्सिडी देकर एक नई रोजगार सृजन योजना की घोषणा की, जो नए काम करती हैं। उन्होंने कहा कि सब्सिडी दो साल के लिए कर्मचारियों के साथ-साथ नियोक्ताओं द्वारा सेवानिवृत्ति निधि योगदान के लिए कवर की जाएगी।

उन्होंने कहा कि कर्मचारियों का योगदान (मजदूरी का 12 प्रतिशत) और नियोक्ता का योगदान (मजदूरी का 12 प्रतिशत) कुल मजदूरी का 24 प्रतिशत दो साल के लिए प्रतिष्ठानों को दिया जाएगा, उन्होंने कहा।

साथ ही पड़े : केंद्र ने 2.65 लाख करोड़ रुपये के कोविद -19 प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा की

Aatmanirbhar Bharat Rozgar Yojana के तहत, प्रत्येक कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) पंजीकृत कर्मचारियों को नए कर्मचारी लेने पर यह सब्सिडी मिलेगी।

यह 15,000 रुपये से कम मासिक वेतन पाने वाले ईपीएफ सदस्यों को भी कवर करेगा, जिन्होंने 1 मार्च, 2020 से कोविद -19 महामारी के दौरान रोजगार से बाहर कर दिया था, और 1 अक्टूबर, 2020 को या उसके बाद कार्यरत हैं।

सितंबर 2020 तक कर्मचारियों के संदर्भ आधार की तुलना में नए कर्मचारियों को जोड़ने पर यह योजना ईपीएफओ के साथ पंजीकृत प्रतिष्ठानों को कवर करेगी।

साथ ही पड़े : आवास इकाइयों की बिक्री को बढ़ावा देने के लिए घर खरीदने (Home buyer) के लिए कर (टैक्स) राहत

यह शर्त 50 कर्मचारियों वाले प्रतिष्ठानों के लिए न्यूनतम दो नए कर्मचारियों को जोड़ने की होगी। 50 से अधिक कर्मचारियों वाले प्रतिष्ठानों को न्यूनतम पांच नए रोजगार देने होंगे।

यह योजना 30 जून, 2021 तक चालू होगी।

इसकी संपूरण जानकारी आप Pib of India के पोस्ट से भी पा सकते हे ।

https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1672321

Subscribe