कच्छ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मेक इन इंडिया के तहत उठाये गए नए कदम  – Make In India efforts in Katch

कच्छ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मेक इन इंडिया के तहत उठाये गए नए कदम – Make In India efforts in Katch

भारत को विश्व गुरु बनाने की होड़ में कच्छ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मेक इन इंडिया के तहत कई नयी योजनाओं का शीलनिवास किया गया। 

पवन ऊर्जा और सूर्य ऊर्जा के प्लांट लगाने की योजना 

  • (Make In India efforts in Katch) 
  • प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गुजरात के कच्छ जिले के विघाकोट गाँव के पास 30 गीगावाट (GW) की क्षमता वाले हाइब्रिड अक्षय ऊर्जा पार्क की आधारशिला रखी जाएगी।
  • अक्षय ऊर्जा पार्क 72,600 हेक्टेयर में फैला होगा। 
  • इसमें पवन और सौर ऊर्जा भंडारण के लिए विशेष समर्पित क्षेत्र होंगे।
  • और साथ ही पवन पार्क गतिविधियों के लिए भी विशेष समर्पित क्षेत्र होंगे।
  • जब प्रधान मंत्री अपने जन्म भूमि के दौरे पर आये थे तब उन्होंने , एक अलवणीकरण संयंत्र (desalination plant) और पूरी तरह से स्वचालित दूध प्रसंस्करण और पैकिंग संयंत्र (fully automated milk processing and packing plant) की आधारशिला भी रखेंगे।

समुद्री जल को पिने योग्य बनाने का प्रयास 

  • गुजरात के विशाल तट-रेखा का उपयोग करते हुए, गुजरात, मांडवी, कच्छ में आगामी विलवणीकरण संयंत्र के साथ पीने के पानी के लिए समुद्री जल को बदलने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठा रहा है।(Make In India efforts in Katch) 
  • गुजरात, मांडवी के विशाल तट-रेखा का उपयोग करके समुद्र के खारे पानी को विलवणीकरण संयंत्र (desalination plant) द्वारा पीने लायक पानी में रूपांतरित करने का कदम उठाया गया है। 
  • 10 करोड़ लीटर प्रति दिन (100 MLD) वाला प्लांट गुजरात के जल संचय को बढ़ावा देगा। जो देश में स्थायी और सस्ती जल संसाधन के लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा। इससे देश के किशानो को सिंचाई के लिए अधिक मात्रा में जल प्राप्त होगा। 
  • मुंद्रा, लखपत, अब्दसा और नखतारण तालुका के क्षेत्रों के लगभग 8 लाख लोगों को इस संयंत्र (Plant) से अलवणीकृत पानी मिलेगा, जो भचाऊ, रापर और गांधीधाम के ऊपरी जिलों के साथ अधिशेष को साझा करने में भी मदद करेगा।
  • यह गुजरात के पांच आगामी विलवणीकरण संयंत्रों में से एक है – दहेज (100 MLD), द्वारका (70 MLD), घोघा भावनगर (70 MLD), और गिर सोमनाथ (30 MLD)।

डेरी उद्योग के विकास के लिए उठाये गए कदम 

  • प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी कच्छ – अंजार के सरहद डेयरी में पूरी तरह से स्वचालित दूध प्रसंस्करण और पैकिंग प्लांट (Fully automated milk processing and packing plant) की आधारशिला भी रखेंगे। 
  • 121 करोड़ रुपये की लागत वाले इस प्लांट में प्रतिदिन 2 लाख लीटर प्रोसेस करने की क्षमता होगी।(Make In India efforts in Katch) 

टूरिसम को बढ़ावा 

कच्छ रणोत्सव (Kachchh Ranotsav) को बढ़ावा देने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी कच्छ के सफ़ेद रण का दौरा भी करेंगे। 

कृषि विकाश पर प्रधान मंत्री का सन्देश

(Make In India efforts in Katch) 

Source : News18 & Narendra Modi(Twitter Account)