beirut explosion

बेरूत में भारी विस्फोट-दर्जनों मरे (Beirut Explosion- hindi me)

बेरूत: दो विशाल विस्फोटों ने मंगलवार को लेबनान की राजधानी के बंदरगाह को हिलाकर रख दिया, दर्जनों लोगों की मौत हो गई और घायल हो गए, इमारतों को हिला दिया और बेरुत विस्फोट (Beirut Explosion) से आकाश धुआँ धुआँ हो गया।

source : Guardian News

दूसरे धमाके के वीडियो फुटेज में एक विशाल नारंगी आकर का आग का गोला दिख रहा है इस धुऐ के आकर के सामने आस-पास की सभी इमारतें बौने की तरह दिखाई दे रही है और एक विनाशकारी बवंडर जैसा बड़ा झटका भी दिखाई दे रहा है। 

“विस्फोट के बल ने हमें अपार्टमेंट में पीछे की ओर फेंक दिया,” उसने कहा।

बेरुत विस्फोट (Beirut Explosion) घटनास्थल पर एएफपी के एक संवाददाता(AFP correspondent)  ने कहा कि हमरा वाणिज्यिक जिले (Hamra commercial district ) में हर दुकान को नुकसान हुआ है, जिसमें पूरे दुकान नष्ट हो गए, सभी दूकान के कांच टूट गए साथ ही बहुत भारी नुकशान देखने को मिला। 

दर्जनों घायल लोग, जिनमें कई खून से लथपथ थे, बच्चों सहित भर्ती होने के लिए क्लेमेंसु मेडिकल सेंटर (Clemenceau Medical Centre) के बाहर कतार में थे और घायल लोग सड़क पर चल रहे थे।

विध्वंसक कारों के एयरबैग्स फूल गए थे और लोग गाड़िया को छोड़ कर भागने लगे थे।

बेरुत विस्फोट (Beirut Explosion) में फॅसे से भारतीय, भारतीय दूतावास से संपर्क कर सके इस लिए भारतीय दुतावास ने कई नए माधयम भी निकाले हे।

एएफपी संवाददाता ने कहा

विस्फोट (Explosion) के बाद पूरे बंदरगाह क्षेत्र में काले धुएं का एक विशाल बादल छा गया था।

पोर्ट ज़ोन को सुरक्षा बलों द्वारा बंद कर दिया गया था, केवल एम्बुलेंस(ambulance), फायर ट्रक(fire truck) और ऐसे लोग जिनके रिश्तेदार तबाह इलाके के अंदर काम कर रहे थे उन्हें ही पोर्ट में जाने जी अनुमति दी गयी है।

बंदरगाह पर एक बहुत बड़ा धमाका जल रहा था, जहाँ एंबुलेंस घायलों को बचा रही थी, उनके सायरन बज रहे थे।

धमाकों को साइप्रस ( Cyprus ) के पूर्वी भूमध्यसागरीय द्वीप पर निकोसिया से 240 किलोमीटर (150 मील) दूर तक सुना गया था।

“इमारतें हिल रही हैं,” एक निवासी ने tweet किया, जबकि दूसरे ने लिखा: “एक बहुत बड़ा, बहरा करने वाला विस्फोट बस बेरूत को घेर लेता है। इसे मीलों दूर से भी सुन सकते थे ।”

एक लेबनानी अखबार (Lebanese newspaper) के कार्यालय से ऑनलाइन फुटेज में खिड़कियों के बाहर बिखरे हुए फर्नीचर और बिखरे हुए इंटीरियर पैनलिंग को देखा गया।

यह विस्फोट ऐसे समय में हुआ है जब लेबनान दशकों से अपना सबसे खराब आर्थिक संकट झेल रहा है, जिसने लगभग आधी आबादी को गरीबी में छोड़ दिया है।

लेबनान की अर्थव्यवस्था हाल के महीनों में गिर गई है, डॉलर के मुकाबले स्थानीय मुद्रा लुढ़क रही है, एन मसाज और गरीबी को बंद करने वाले व्यवसाय बेरोजगारी के समान खतरनाक दर पर बढ़ रहे हैं।

विस्फोट भी आते हैं क्योंकि लेबनान के पूर्व प्रधान रफीक हरीरी (Rafic Hariri) की 2005 में एक विशाल ट्रक बम हमले में हत्या के मामले में लेबनान ने शुक्रवार को फैसले का इंतजार किया था।

शिया मुस्लिम आंदोलन के चार कथित सदस्य हिज़्बुल्लाह नीदरलैंड में एक अदालत में अनुपस्थित मुकदमे की सुनवाई कर रहे हैं, जिसमें सुन्नी अरबपति हरीरी और 21 अन्य लोगों की मौत हो गई।

सिटी सेंटर की एक महिला ने मंगलवार को एएफपी (AFP) को बताया, “यह भूकंप की तरह महसूस हुआ … मुझे लगा कि यह 2005 में रफीक हरीरी की हत्या में हुऐ विस्फोट से भी बड़ा था”।

लेबनान स्थित और ईरान समर्थित समूह द्वारा गए दावे के अनुसार, इज़राइल ने कहा कि पाँच हिज़बुल्लाह बंदूकधारियों द्वारा घुसपैठ की कोशिश को विफल करने के बाद, पड़ोसी देश इज़राइल के साथ तनाव भी जारी है।

sources: The Gardian, indianexpress, hindustantime, twitter

Subscribe