Petrol Price Control – कम हो सकते है पेट्रोल डीजल के दाम

Petrol Price Control – कम हो सकते है पेट्रोल डीजल के दाम

Petrol Price : कुछ दिनों से देश में लगातार पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी होने विपक्ष को एक मजबूत पक्ष मिल गया और उसने जमकर सरकार का विरोध किया।और पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी होने से जनता भी परेशान है। जनता लगातार सवाल कर रही है की पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल की कीमतों में गिरावट कब आएगी।

तो आप पेट्रोल के फ़िलहाल के दामों से खुश है ?


इस मुद्दे को पर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधानजी (Dharmendra Pradhan) ने बताया कि

हमने पेट्रोलियम उत्पादक देशों से तेल का उत्पादन बढ़ाने के लिए अनुरोध किया है ताकि भारतीय उपभोक्ताओं को ईंधन की बढ़ती कीमतों से राहत मिल सके।

यह भी पढ़िए : FACEBOOK पर समाचार पोस्ट करने पर मिलेंगे पैसे

क्यों बढ़ रहे है पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल के दाम

  • अप्रैल 2020 में, कोरोना महमार्री की वजह से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल के दाम में भरी गिरावट आयी थी।
  • इस नुकशान की भरपाई करने के लिए तेल उत्पादक देशों ने उत्पादन में कटौती करने का फैसला किया।
  • ये देश ज्यादा कमाई करने के चक्कर में कम ईंधन का उत्पादन कर रहे हैं।
  • जब अब पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल की मांग बढ़ गई है तब तेल उत्पादक देशो ने उत्पादन में कटौती कर दी है।
  • धर्मेंद्र प्रधानजी (Dharmendra Pradhan) ने बताया कि देश में कुकिंग गैस, डीजल और पेट्रोल के दाम (Petrol Price) मार्च या अप्रैल 2021 तक कम हो सकते हैं।
  • पेट्रोल के दाम (Petrol Price) पर उन्होंने आश्वासन दिया की शर्दियो का सीजन ख़तम होने तक दाम में गिरावट आ सकती है।

कौन कौन टीका ले सकता है और कितने रुपये में टीकाकरण होगा ?

क्या सरकार को अगले चुनाव में पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल के दाम में बढ़ोतरी से नुकशान होगा ?

  • भारतीय जनता अब पिछले दशक की तरह अनपढ़ नहीं है, आज का युवा पढ़ा लिखा है।
  • और वह सरकार से रोजगार और अच्छी जीवन शैली मिलने की उम्मीद करता है।
  • वह इतनी आशा तो रखता ही है की जीवन जरुरी (Essential) सभी प्राथमिक चीजों का दाम ज्यादा न हो।
  • पेट्रोल (Petrol Price) और डीजल के दाम में बढ़ोतरी से लोगो में एक निराशा का भाव जागृत हुआ है।

यह भी पढ़िए : PF पर मिलने वाले ब्याज में होगी कमी

Subscribe